Blog

3 महीने में सामरिक पुल…देखें चीन बॉर्डर पर बीआरओ के कमाल की तस्वीरें

Ads

 

  • भारत-चीन एलएसी के पास तनाव जारी है. इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लद्दाख में सामरिक जगह नीमू पोस्ट का दौरा किया. आजतक की टीम उस जगह पहुंची है, जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दौरा किया था. वहां देखा कि एलएसी के पास सामरिक पुल और सड़कों को बनाने का काम युद्धस्तर पर चल रहा है. लेह से 35 किलोमीटर दूर नीमू में आजतक की टीम पहुंची.

  • 3 महीने में सामरिक पुल...देखें चीन बॉर्डर पर बीआरओ के कमाल की तस्वीरें

    भारत की ताकत और रणनीति ने लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर चीन को अपने कदम पीछे खींचने पर मजबूर कर दिया है.

  • 3 महीने में सामरिक पुल...देखें चीन बॉर्डर पर बीआरओ के कमाल की तस्वीरें

    एलएसी के पास सामरिक पुल और सड़कों को बनाने का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है. सीमा सड़क संगठन यानी बीआरओ तेजी से सामरिक सड़कों और पुल को बना रहा है. 3 साल में 40 पुलों पर काम चल रहा है, जिसमें से 20 पुल बनकर तैयार हैं. 2022 तक 66 सामरिक सड़कें बनाने का भी लक्ष्य है.


  • 4 / 7
  • 3 महीने में सामरिक पुल...देखें चीन बॉर्डर पर बीआरओ के कमाल की तस्वीरें

    पुराने पुल की जगह नए मजबूत पुल बनाए जा रहे है, जिससे सेना के भारी भरकम ट्रक और टैंक आसानी से गुजर सके. इसके साथ ही आजतक की टीम दुनिया की सबसे ऊंची पक्की रोड खरदुंग ला भी पहुंची. यह हाईवे सियाचिन और दौलत बेग ओल्डी को जोड़ती है.

    Ads
  • 3 महीने में सामरिक पुल...देखें चीन बॉर्डर पर बीआरओ के कमाल की तस्वीरें

    दरअसल, भारत और चीन के बीच टकराव की सबसे बड़ी वजह भारत की ओर से तेजी से सामरिक सड़कों और पुलों का निर्माण करना है. चीन घबराया हुआ है कि भारतीय सेना इतनी तेजी से सामरिक सड़कें और पुल क्यों बना रही है. सड़क-पुल निर्माण के काम में बीआरओ अहम भूमिका निभा रहा है.

  • 3 महीने में सामरिक पुल...देखें चीन बॉर्डर पर बीआरओ के कमाल की तस्वीरें

    आजतक की टीम नीमू-दारका सड़क पर भी पहुंची. इस सड़क का तेजी से निर्माण किया जा रहा है. सामरिक रूप से यह सड़क काफी अहम है और इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वकांक्षी परियोजना में से एक माना जाता है. इस नई सड़क के बन जाने से सियाचिन तक भारतीय सैनिकों की आवाजाही बिना पाकिस्तान की नजर में आए हो सकेगी.

 

Ads

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker